सुक्खू सरकार में कानून व्यवस्था बड़ी चुनौती: जयराम ठाकुर

पूर्व सीएम और नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर (Jairam Thakur) ने प्रदेश सरकार की कानून व्यवस्था (Law and order) पर कई सवाल खड़े किए हैं।
सुक्खू सरकार में कानून व्यवस्था बड़ी चुनौती: जयराम ठाकुर

नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि हिमाचल में कानून व्यवस्था दिन प्रति दिन बिगड़ती जा रही है। लेकिन प्रदेश सरकार इस मामले में कुछ नहीं कर रही है। मुख्यमंत्री ने उपचुनाव में जीत हासिल करने के लिए देहरा विधानसभा (Dehra Assembly) में पुलिस अधीक्षक और लोक निर्माण विभाग के एसई कार्यालय खोलने को कहा है, क्योंकि यहां मुख्यमंत्री की ससुराल है। जहां से उनकी पत्नी कमलेश ठाकुर (kamlesh thakur) को टिकट दिया गया है।

उपचुनाव के खर्च के लिए मुख्यमंत्री जिम्मेदार

पूर्व सीएम जयराम ठाकुर ने आरोप लगाते हुए कहा उप चुनाव में सरकारी मशीन का उपयोग कर रही है। पहले ही आशीष शर्मा, केएल ठाकुर और होशियार सिंह के इस्तीफे मंजूर कर लिए जाते तो इन सीटों पर भी चुनाव लोकसभा के साथ हो जाते। इससे पैसे और समय दोनों की बचत होती। लेकिन अब इन तीनों विधायकों को बीजेपी से टिकट मिला है। इन तीनों विधायकों ने अपने इस्तीफे मंजूर कराने के लिए प्रदेश सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी किया था। हमीरपुर, नालागढ़ और देहरा इन तीनों में होने वाले उपचुनाव (Bypoll) का खर्चा मुख्यमंत्री उठाएंगे।

हिमाचल में केंद्र सरकार द्वारा किए गए विकास कार्य

नेता प्रतिपक्ष ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार में विकास करवाने की वजह सरकार अपनों को बचाने में लगी हुई है। जिन बड़ी-बड़ी योजनाओं के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश को एक बजट मिला है। उस बजट पर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू (CM Sukhwinder Singh Sukhu) और उप मुख्यमंमंत्री मुकेश अग्निहोत्री (Deputy CM Mukesh Agnihotri) अपना नाम करते है कि ये काम हमने किया है। प्रदेश के लोग बोलते हैं कि बल्क ड्रग पार्क, पीजीआई, सेटेलाइट सेंट सहित योजनाओं पर काम केंद्र सरकार द्वारा किया गया है।

logo
NewsCrunch
news-crunch.com