संजय सेठ बने यूपी राज्यसभा से आठवें उम्मीदवार

भाजपा ने संजय सेठ को उत्तरप्रदेश में राज्यसभा से आठवां प्रत्याशी बनाया।
संजय सेठ बने यूपी राज्यसभा से आठवें उम्मीदवार
Info

भाजपा (BJP) ने संजय सेठ (Sanjay Seth) को उत्तरप्रदेश (UP) में राज्यसभा से आठवां प्रत्याशी बनाया। 7 उम्मीदवारों को राज्यसभा से उतारने के बाद आज भाजपा (BJP) ने संजय सेठ को 8 वें प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतारा। संजय सेठ (वैश्य जाति) ने एनडीए नेताओं की उपस्थिति में राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन भरा।

नामांकन के समय उत्तरप्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य(Deputy CM Keshav Prasad Maurya) ,प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी(BJP State President Bhupendra Singh Chaudhary) , संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ,लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद सहित अपना दल (सोनेलाल) के आशीष पटेल और निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय कुमार निषाद आदि नेता उपस्थित रहे।

सपा के लिए कठिनाई की संभावना

63 वर्षीय संजय सेठ (Sanjay Seth) के भाजपा (BJP) की तरफ से आठवें प्रत्याशी के तौर पर नामांकन भरने से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के लिए कठिनाई बढ़ने की संभावना हैं। सपा के 3 उम्मीदवारों में से 2 उम्मीदवार तो आसानी से जीत सकते हैं पर 1 उम्मीदवार के लिए मुश्किलें बढ़ सकती हैं। उत्तरप्रदेश (UP) में 10 सीटों पर 11 उम्मीदवारों ने नामांकन भरा , इससे सपा (SPA)के  तीसरे उम्मीदवार रामजी लाल सुमन को कड़ी टक्कर मिलेगी और उनकी सीट फंसने की आशंका हैं।सपा (SPA) के 2 विधायक जेल में हैं और वहीं अपना दल (कमेरावादी) से पल्लवी पटेल (Pallavi Patel) ने सार्वजनिक रूप से सपा का विरोध किया हैं।

8 वें उम्मीदवार को चुनावी मैदान में उतारने से भाजपा को 8 विधायकों की आवश्यकता पड़ेगी। रालोद (RLD) के एनडीए (NDA) में शामिल होने से विधायकों के संख्या बल में बढ़ावा हुआ हैं। रालोद के साथ आने से एनडीए के पास अब 286 विधायक हैं । रघुराज प्रताप सिंह उर्फ ​​राजा भैया सहित जनसत्ता दल (लोकतांत्रिक) के 2 विधायक राज्यसभा चुनाव में एनडीए (NDA) को समर्थन दे सकते हैं, जिससे एनडीए (NDA) को लाभ होगा।

अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव के करीबी रह चुके हैं संजय सेठ

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) से राज्यसभा सांसद एवं राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष रह चुके संजय सेठ 2019 में भाजपा (BJP) में शामिल हुए। संजय सेठ इससे पहले अखिलेश यादव और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के नजदीकी माने जाते रहे हैं। उन्होंने 2018 में पूर्व मुख्यमंत्री  मुलायम सिंह यादव को 14 करोड़ रुपए की लागत तक का बंगला उपहार में दिया था।

logo
NewsCrunch
news-crunch.com