यूपी में भाजपा अनुसूचित मोर्चा का राष्ट्रीय अधिवेशन

भाजपा के अनुसूचित मोर्चा का राष्ट्रीय अधिवेशन 7 मार्च को उत्तर प्रदेश के आगरा के कोठी मीना बाजार में आयोजित होगा ।
यूपी में भाजपा अनुसूचित मोर्चा का राष्ट्रीय अधिवेशन
Info

भाजपा के अनुसूचित मोर्चा का राष्ट्रीय अधिवेशन 7 मार्च को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आगरा (Agra) के कोठी मीना बाजार क्षेत्र में आयोजित होगा , जिसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (BJP National President J.P. Nadda), मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) , अनुसूचित समाज के मंत्री और जनप्रतिनिधि  भाग लेंगे। आगरा (Agra) के कोठी मीना बाजार में आयोजित इस अधिवेशन में एक लाख कार्यकर्ताओं को आमंत्रित किया गया हैं।

भाजपा (BJP) के अनुसूचित मोर्चा (SC Morcha) के राष्ट्रीय अधिवेशन (National Convention) में उत्तर प्रदेश ,दिल्ली,राजस्थान,मध्य प्रदेश, राजस्थान सहित विभिन्न राज्यों के प्रतिनिधि भाग लेंगे। इस राष्ट्रीय अधिवेशन में दो मंच बनाए जा रहे हैं , जिसमें से एक मंच पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, संगठन से जुड़े राष्ट्रीय पदाधिकारी,पार्टी के अनुसूचित समाज के मंत्री और जनप्रतिनिधि विराजमान होंगे जबकि अनुसूचित समाज के प्रबुद्ध वर्ग के खिलाड़ी,पुरस्कार प्राप्त विभिन्न क्षेत्रों के सामाजिक गणमान्य जन , सेवानिवृत अधिकारी दूसरे मंच पर बैठेंगे।

आगरा का जाति समीकरण 

आगरा में अनुसूचित जाति से 280000 , वैश्य जाति से 315 लाख , मुस्लिम 270000 , जाटव 300000 , बघेल 130000 जाति से जुड़े लोगों के अतिरिक्त अन्य जाति समुदाय के लोगों हैं। 

आगरा अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट हैं , जिसमें पांच विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं। पांचों विधानसभा में भाजपा के ही विधायक हैं।  

2024 में आगरा लोकसभा से एसपी सिंह बघेल पुनः भाजपा के प्रत्याशी बने।

आगरा लोकसभा (Agra SC Parliament Constituency) से वर्तमान में भाजपा ने पुनः एसपी सिंह बघेल (SP Singh Baghel) को उम्मीदवार बनाया , जबकि विपक्ष अभी तक मजबूत उम्मीदवार की तलाश में हैं। 63 वर्षीय एसपी सिंह बघेल अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) से हैं , इनका पूरा नाम सत्य पाल सिंह हैं । एसपी सिंह बघेल 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा (BJP) में शामिल हुए थे। वर्तमान में  एसपी सिंह बघेल केंद्रीय राज्य मंत्री हैं। 2019 की लोकसभा चुनाव में प्रो.एसपी सिंह बघेल ने गठबंधन के बसपा (BSP) उम्मीदवार  मनोज कुमार सोनी को 2,10,053 मतों से हराया था। यूपी सहित अन्य राज्यों में भी राम मंदिर का अधिक प्रभाव हैं। यूपी (UP) में एनडीए (NDA) की लहर हैं।यूपी में एनडीए की अधिक सीटों पर जीतने की प्रबल संभावना हैं।

logo
NewsCrunch
news-crunch.com