दिमनी विधानसभा में पक्षपात हुआ: कांग्रेस प्रत्याशी रविंद्र तोमर

दिमनी से कांग्रेस प्रत्याशी रविंद्र तोमर ने बीजेपी प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के दबाव में जिला प्रशासन पर अतिसंवेदनशील पोलिंग बूथ पर कम फोर्स लगाने का आरोप लगाया है।
दिमनी विधानसभा में पक्षपात हुआ:  कांग्रेस प्रत्याशी रविंद्र तोमर

मुरैना की दिमनी विधानसभा (Dimani Assembly) से कांग्रेस विधायक और प्रत्याशी रविंद्र सिंह तोमर (Congress candidate Ravindra Singh Tomar) ने मुरैना कलेक्टर (Morena Collector) अंकित अस्थाना और एसपी शैलेंद्र चौहान (SP Shailendra Chauhan) पर आरोप लगाते हुए कहा है कि कलेक्टर और SP ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Central Minister Narendra Singh Tomar) के दबाव में आकर दिमनी विधानसभा में पक्षपात को बढ़ावा दिया है। केंद्रीय मंत्री के कहने पर अति संवेदनशील पोलिंग बूथ पर जानकर कम फोर्स तैनात किया था।

अपराधियों को जिला बदर करने की मांग

प्रत्याशी रविंद्र सिंह तोमर ने आगे बताया कि केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पुलिस और प्रशासन का गलत उपयोग किया है। जिसके कारण मतदाता अपने मत का उपयोग करने से वंचित रह गए। उन्होंने एसपी पर भाजपा का एजेंट बनकर काम करने का आरोप लगाया। रविंद्र  सिंह तोमर ने कलेक्टर को अपराधियों के नामों की सूची पर साइन करके उन्हें जिला बदर करने की अपील की है।

पुलिस ने शिकायतों को गंभीरता से नहीं लिया: रविंद्र सिंह तोमर

कांग्रेस प्रत्याशी ने बताया कि उन्होंने कलेक्टर को दिमनी क्षेत्र के अति संवेदनशील पोलिंग बूथों (highly sensitive polling booth) की सूची दी थी, वहां पर मात्र एक आरक्षक की ड्यूटी लगाई गई। इसके अलावा बीएसएफ के जवानों की ड्यूटी लगाई गई थी। उन्होंने कहा कि इसकी शिकायत उन्होंने निर्वाचन आयोग व पर्यवेक्षक से भी की थी। रविंद्र सिंह तोमर का आरोप है कि उस दिन कम से कम 20 से 25 शिकायतें की थी  लेकिन पुलिस  ने उनकी बातों को गंभीरता से नहीं लिया था।

logo
NewsCrunch
news-crunch.com