कोर्ट ने CM केजरीवाल की न्यायिक हिरासत 3 जुलाई तक बढ़ाई

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की न्यायिक हिरासत को कोर्ट ने 3 जुलाई तक बढ़ा दी है।
कोर्ट ने CM केजरीवाल की न्यायिक हिरासत 3 जुलाई तक बढ़ाई

दिल्ली आबकारी नीति केस में प्रवर्तन निदेशालय (ED) के वकील ने कोर्ट में कहा कि ‘विनोद चौहान को बीआरएस नेता के कविता के पीए के जरिए 25 करोड़ रुपये मिले थे’। ‘उसे गोवा चुनाव के लिए अभिषेक बोइनपल्ली के जरिए पैसा मिला था’। उन्होंने आगे कहा कि इस महीने के अंत में विनोद चौहान के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई जाएगी। ईडी उसे मई में गिरफ्तार कर चुकी है।

कोर्ट ने बढ़ाई सीएम केजरीवाल की न्यायिक हिरासत

दरअसल, आबकारी नीति केस (Excise Policy Case) में सीएम केजरीवाल की न्यायिक हिरासत आज खत्म हो रही थी। ऐसे में राउज एवेन्यु कोर्ट (Rouse Avenue Court) में मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने एक बार फिर सीएम केजरीवाल की न्यायिक हिरासत को बढ़ा दिया है।

शराब घोटाले में सीबाईआई दर्ज कर चुकी है कई चार्जशीट

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) के वकील ने बताया कि 17 अगस्त 2022 को CBI ने केस दर्ज किया था। सीबीआई (CBI) द्वारा मामले में कई चार्जशीट दाखिल की गई है। वह सीबीआई के मामले में आरोपी नहीं हैं। इस मामले में सीबीआई ने मुझसे पूछताछ भी की है लेकिन सीबीआई को अभी तक मेरे खिलाफ कुछ नहीं मिला है। ईडी ने जो पहला समन जारी किया। उसके जवाब में मैंने ई़डी से पूछा था कि ईडी ने अरविंद केजरीवाल  (Arvind Kejriwal)को किस हैसियत से समन भेजा था।

केजरीवाल की गिरफ़्तारी के पीछे दुर्भावना: आप

इस पूरे मामले में आप नेता और पदाधिकारियों का मानना है कि यह पूरा घटनाक्रम अगस्त 2022 से शुरू हुआ था। सीएम केजरीवाल की गिरफ्तारी (Custody CM Kejriwal)चुनाव से ठीक पहले मार्च 2024 में हुई थी। उन्होंने केजरीवाल को गिरफ्तार करने के लिए चुनाव की घोषणा होने का इंतजार किया। केजरीवाल की गिरफ़्तारी के समय के पीछे भी एक दुर्भावना है।

logo
NewsCrunch
news-crunch.com