अंतरिक्ष में मिला अर्द्ध-चंद्रमा

वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में पृथ्वी के समान समय सीमा में सूर्य की परिक्रमा करने वाले क्षुद्रग्रह अर्द्ध-चंद्रमा की खोज की और उसे 2023 FW13 नाम करार दिया।
अंतरिक्ष में मिला अर्द्ध-चंद्रमा

वैज्ञानिकों (Scientists) ने अंतरिक्ष (Space) में एक क्षुद्रग्रह (Asteroid) की खोज की है। यह  क्षुद्रग्रह (Asteroid) सूर्य (Sun) और एवं पृथ्वी (Earth) की परिक्रमा कर रहा हैं।  वैज्ञानिकों ने इस क्षुद्रग्रह (Asteroid) को 2023 FW13 नाम दिया हैं। वैज्ञानिकों के अनुसार यह क्षुद्रग्रह (Asteroid) अर्द्ध-चंद्रमा अथवा अर्द्ध-उपग्रह है।  यह सूर्य (Sun) की परिक्रमा पृथ्वी (Earth) के समान समय सीमा में ही कर रहा है। यह क्षुद्रग्रह (Asteroid) पृथ्वी का अब तक का सबसे अधिक लंबा अर्द्ध उपग्रह है।

क्षुद्रग्रह (Asteroid) पर धरती के गुरुवाकर्षण का खिंचाव पड़ने के कारण यह प्रभावित हो रहा हैं। यह क्षुद्रग्रह (Asteroid) 50 फीट अर्थात 15 मीटर का हैं, जो कि पृथ्वी (Earth)  से लगभग 1.4 करोड़ किलोमीटर दूर स्थित है। वैज्ञानिकों (Scientists) ने क्षुद्रग्रह (Asteroid) को 28 मार्च 2023 को पैन-स्टार्स सर्वे दूरबीन (Pan-STARRS Survey Telescope)की मदद से खोजा था। उन्होंने पैन-स्टार्स सर्वे दूरबीन (Pan-STARRS Survey Telescope) को हवाई द्वीप पर एक निष्क्रिय ज्वालामुखी के ऊपर रखा था। यह दूरबीन (Telescope) हवाई प्रांत के मावी द्वीप (Maui Island) पर स्थित एक विशुप्त ज्वालामुखी (Volcano) हेलाकली पर स्थित है।

वैज्ञानिकों (Scientists) के अनुसार क्षुद्रग्रह (Asteroid) की पृथ्वी (Earth) से टकराने की संभावना बिलकुल नहीं है। वहीं क्षुद्रग्रह (Asteroid)  के सूर्य के चारों तरफ अपनी कक्षा में पृथ्वी के चारों ओर करीब वर्ष 3700 अनुसरण करने की आशंका  है। हीन ग्रह केन्द्र (Minor Planet Center) ने अंतरराष्ट्रीय खगोलीय संघ (International Astronomical Union)  में इस क्षुद्रग्रह (Asteroid) को आधिकारिक रूप से  1 अप्रैल को सूचीबद्ध किया था। कनाडा-फ्रांस-हवाई दूरबीन के अतिरिक्त एरिजोना में दो पर्यवेक्षकों (Observatory) ने इस क्षुद्रग्रह (Asteroid) के होने की पुष्टि की । खगोलशास्त्री एड्रियन कॉफिनेट (Astronomer Adrien Coffinet) ने क्षुद्रग्रह (Asteroid)  के मार्ग के मानचित्र (Mapping) को दर्शाने के लिए एक कक्षा सिम्युलेटर का उपयोग किया और अर्द्ध-चंद्रमा के तौर पर वर्गीकृत किया। वहीं खगोलशास्त्री टोनी डन (Astronomer Tony Dunn) ने इस कक्षा सिम्युलेटर को विकसित करने का काम किया।

logo
NewsCrunch
news-crunch.com