आज से बदले गए नियम: वाहन खरीदने से लेकर मोबाइल नंबर पोर्ट कराने तक

आज से, भारत में कुछ महत्वपूर्ण नियमों में बदलाव हुआ है, जो वाहन खरीदने से लेकर मोबाइल नंबर पोर्ट कराने तक के क्षेत्र में लागू होंगे।
आज से बदले गए नियम: वाहन खरीदने से लेकर मोबाइल नंबर पोर्ट कराने तक

आज से, भारत में कुछ महत्वपूर्ण नियमों में बदलाव हुआ है, जो वाहन खरीदने से लेकर मोबाइल नंबर पोर्ट कराने तक के क्षेत्र में लागू होंगे। यहां हम उन बदलावों को जानेंगे:

1500 रुपये तक महंगे हो जाएंगे हीरो के दोपहिया: देश की प्रमुख दोपहिया निर्माता कंपनी, हीरो मोटोकार्प, अब अपने दोपहिया वाहनों की कीमतों में वृद्धि कर रही है। यह वृद्धि मॉडल और बाजार के हिसाब से अलग-अलग होगी। ऊंची उत्पादन लागत के कारण कंपनी ने मूल्य में वृद्धि की जा रही है।

दो प्रतिशत तक महंगे होंगे टाटा के वाणिज्यिक वाहन: टाटा मोटर्स के वाणिज्यिक वाहन अब दो प्रतिशत तक महंगे हो जाएंगे। यह मूल्य वाहन के मॉडल के आधार पर अलग-अलग होगी। कंपनी ने मार्च में भी वाणिज्यिक वाहनों के मूल्य में दो प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की थी।

मोबाइल नंबर पोर्टिंग के नियमों में बदलाव: अब मोबाइल नंबर पोर्ट करने के लिए समय-सीमा कम हो गई है। ग्राहक को पहले अपने सिम को बदलने के लिए 10 दिन की समय-सीमा थी, लेकिन अब वह सात दिन बाद ही अपने मोबाइल नंबर को पोर्ट करा सकेगा। यह नियम धोखाधड़ी को रोकने के उद्देश्य से लागू किया गया है।

मोबाइल रिचार्ज कराना होगा महंगा: देश की प्रमुख दूरसंचार कंपनियों रिलायंस जियो, भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया ने अपने- अपने रिचार्ज प्लान में 10-24 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी कर दी है। रिलायंस जियो और भारती एयरटेल के रिचार्ज तीन जुलाई और वोडाफोन आइडिया के रिचार्ज चार जुलाई से महंगे होंगे।

एनपीएस में सौदे वाले दिन ही निपटान: एक जुलाई से सब्सक्राइबर्स को सीदे वाले दिन ही निपटान की सुविधा मिलने लगेगी। पेशन कोष विनियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) के अनुसार, किसी भी निपटान दिवस पर सुबह 11 बजे तक ट्रस्टी बैंक द्वारा प्राप्त एनपीएस अंशदान उसी दिन निवेश किया जाएगा और ग्राहकों को उसी दिन एनएवी (शुद्ध संपति मूल्य) का लाभ मिलेगा। अभी तक ट्रस्टी बैंक द्वारा प्राप्त योगदान का निपटान अगले दिन (टी+1) निवेश किया जाता है।

logo
NewsCrunch
news-crunch.com